Shayari

मंजिल उन्ही को मिलती है जिनके सपनो में जान होती है

पंखो से कुछ नहीं होता होसलो से उड़ान होती है

 

यादें वो नहीं जो भीड़ में आती हैं…

ना यादें वो है जो तन्हाई में आती हैं …

यादें तो वो है जो भीड़ में भी तन्हा कर जाती है

Shayari

दिल के दर्द को छुपाना कितना मुश्किल है,

टूट के फिर मुस्कुराना कितना मुश्किल है ,

दूर तक चलो जब किसी के साथ ,

तन्हा लौट के आना कितना मुश्किल है

 

हर नाराजगी का मतलब इंकार नहीं होता ,

हर मुस्कराहट का मतलब इजहार नहीं होता ,

ज़िन्दगी में नजरें मिल ही जाती है ,

हर नजर का मतलब प्यार नहीं होता

 

जाने क्या ज़माना मुझसे चाहता है ,

मेरा दिल तोड़कर मुझे हसाना चाहता है ,

जाने क्या बात है मेरे चेहरे में ,

जो हर शख्स मुझे आज़माना चाहता है

 

कोई आँखों आँखों से बात कर लेता है ,

कोई आँखों आँखों में मुलाकात कर लेता है ,

खूबियों से नहीं होती मोहब्बत ,

खामियों से भी प्यार हो जाता है

 

हमने लाख चाहा पर मनाया ना गया ,

यादो में अपने उनको भुलाया ना गया ,

रूठने वाले से कोई ये पूछे ,

की वो खुद रूठा या हमसे मनाया ना गया

 

ज़िन्दगी से सभी को मोहब्बत होती है ,

पर जिंदगी कभी किसी की मोहब्बत नहीं बनती ,

तमन्ना लेकर जीते हैं सभी ,

पर हर तमन्ना उसकी तकदीर नहीं बनती

 

कहते हैं जब किसी को याद करते हैं तो एक तारा टूटता है ,

किसी दिन सारा आसमाँ खाली हो जायेगा

और इल्ज़ाम हम पर आ जायेगा

 

जख्म देने का अंदाज ही कुछ ऐसा है ,

दर्द देकर पूछते हैं अब हाल कैसा है ,

किसी एक से गिला क्या करे ,

साड़ी दुनिया का मिजाज एक सा है