Sad Shayari Hindi

दिल का ज़ख्म जुबाँ पर लाया नहीं करते ,

हम अपने आँखों से आंसू बहाया नहीं करते ,

ज़ख्म कितने भी गहरे क्यों न हो ,

हम अपने होठो से मुस्कराहट हटाया नहीं करते

 

सोचा था इस कदर उनको भूल जायेंगे ,

देख कर भी अनदेखा कर जायेंगे ,

पर जब जब आया उनका चेहरा सामने ,

सोचा इस बार देखले अगली बार भूल जायेंगे

 

उस शख्स को मेरा हल्का सा एहसास तो है ,

बेदर्द ही सही वो हमराज तो है ,

वो आएगा एक दिन मेरे पास वापिस ,

झूठी ही सही एक आस तो है

 

खुद किसी को किसी पर फ़िदा न करे,

फ़िदा करे तो क़यामत तक जुदा न करे ,

ये माना की कोई मरता नहीं जुदाई में,

लेकिन जी भी तो नहीं पाता जुदाई में

 

लिखूं कुछ आज वक़्त का तकाजा है ,

दर्द-ऐ-दिल अभी ताजा है ,

गिर पड़ते है आंसू मेरे कागज़ पर ,

लगता है कलम में स्याही कम दिल में दर्द ज्यादा है

 

ना रही आज वो अपनी कहानी ,

ना वो हसीन दिन ना वो रातें सुहानी ,

फिर भी हमें अजज़ेज है उनकी हर निशानी,

चाहे दिल का वो दर्द हो या आँखों से बहता पानी

Sad Shayari Hindi

प्यार के लिए बेगाने चले आते हैं ,

शमा के लिए परवाने चले आते हैं ,

याद नहीं आती तो आना मेरी मौत पर ,

उस दिन तो बेगाने भी चले आते हैं

 

कोई ख्वाब इन आँखों ने सजाया ही नहीं ,

हमारे दिल की गहराई कोई समझ पाया ही नहीं ,

किसी को महसूस हो हमारी कमी ,

खुदा ने हमें शायद ऐसा बनाया ही नहीं

 

दोस्त ने दोस्ती के लिए दोस्ती को भुला दिया ,

क्या हुआ जो किसी के लिए हमे भुला दिया ,

हम तो अकेले थे अकेले ही रहे ,

क्या हुआ जो आपने हमें एहसास दिला दिया